कानपुर में मृतक को नही मिला स्ट्रेचर परिवार को हाथ मे ले जानी पड़ी डेड बॉडी


अभय श्रीवास्तव संवाददाता


कानपुर:-कानपुर के सेंट्रल स्टेशन में फिर देखने को मिली लापरवाही मानवता को शर्मसार करने वाली करतूत हुई कैमरे में कैद ट्रेन में हुई थी युवक की मौत मृतक को नहीं मिला ।



स्ट्रेचर परिवार वालों को हाथ में ले जाना पड़ी डेड बॉडी लोकमान्य तिलक ट्रेन से मुंबई से सफर कर रहे आबिद की तबियत बिगड़ने से झांसी में आबिद की मौत हो गई आबिद के परिवार वालो ने इसकी सूचना झांसी रेलवे स्टेशन में दी तो उन्होंने उनकी बात की अनसुनी करते हुए उनको आगे बढ़ा दिया जब गाड़ी कानपुर सेंट्रल पहुची तो म्रतक के परिवार वालो ने इसकी सूचना कानपुर सेंट्रल की जीआरपी और स्टेशन मास्टर को दी तो उन्हों ने भी परिजनों बात को अनसुनी करते हुए कहा हम यह से आप को कुछ भी सुविधा नही दे सकते हैं आप इनको अपने साधन से ले जाओ परिजनों ने आबिद को हाथों में उठा कर प्लेटफार्म से स्टेशन के बाहर तक ले गये ।



सोचने वाली बात है जहाँ सरकार यात्रियों को हर सुविधा देती तो वही कानपुर सेंट्रल के अधिकारी व कर्मचारी म्रतक को स्टेचर भी नही दे पाये


Popular posts from this blog

झांसी की  प्रगति यादव ने जिले का  नाम रोशन किया...

इनामी अपराधी को मार गिराने वाले जांबाज अफसर को मिला वीरता पदक.....

शिक्षा,स्वास्थ्य सुरक्षा से बेहतर होगा बेटियों का भविष्य.....